Home उत्तराखंड सहस्त्रताल ट्रैक दुर्घटना: गाइड ने आपबीती बताई..।जब एक ट्रैकर मर गया, चार...

सहस्त्रताल ट्रैक दुर्घटना: गाइड ने आपबीती बताई..।जब एक ट्रैकर मर गया, चार लोग दहशत में गिर पड़े।

23
0

उत्तरकाशी के सहस्त्रताल ट्रैक पर सभी ट्रैकर्स सुरक्षित थे, लेकिन अचानक मौसम बदल गया और तेज बारिश शुरू हो गई। इस बीच, घने कोहरे के कारण पहले से जमे हुए बर्फ से बाहर निकलना मुश्किल हो गया। भयानक ठंड से एक ट्रैकर की मौत हो गई, तो दहशत से दूसरे भी मर गए।

यह कहते हैं कि राजेश सहस्त्रताल ट्रैक पर 22 सदस्यीय ट्रैकिंग दल के साथ गया था। आप बीती सुनाते हुए राजेश ने बताया कि बीते तीन जून को दोपहर करीब 11:30 बजे से 12 बजे के बीच 22 सदस्यीय ट्रैकिंग दल ने करीब 14,500 फीट की ऊंचाई पर स्थित सहस्त्रताल का आरोहण किया था।

सफल आरोहण के बाद वापसी में दल बेस कैंप से करीब तीन किमी पहले परीताल के समीप पहुंना, लेकिन वहां अचानक परिस्थितयां बदल गई। अचानक तेज बारिश, आंधी और घने कोहरे के साथ पूर्व से जमी बर्फ के बीच निकलना ट्रैकर्स के लिए मुश्किल हो गया। जबकि सभी ट्रैकर्स स्वस्थ थे।

वहाँ ठंड बहुत तेज थी और हालात भी खराब थे। इस बीच, अत्यधिक ठंड से एक ट्रैकर टूट गया। अन्य साथी उसे देखकर डर गए, और चार अन्य ट्रैकर भी इसी भय से मर गए।

किसी को कुछ समझ नहीं आया, अचानक स्थिति विपरीत हो गई थी। राजेश ने बताया कि घटना के बाद कि घटना के बाद वह करीब 18 किमी पैदल चलकर आया है और उसने ट्रैकिंग एजेंसी और एसोसिएशन को घटना की जानकारी दी।
बता दें कि इस हादसे में नौ ट्रैकरों ने जान गंवा दी। सूचना मिलने पर प्रशासन ने रेस्क्यू अभियान चलाकर 13 ट्रैकरों को सुरक्षित निकाल लिया। इनमें से 11 को एयरलिफ्ट किया गया था।