Home उत्तराखंड Haldwani: 40 घंटे बिजली बंद रहेगी..।ऊर्जा निगम के खिलाफ लोगों ने प्रदर्शन...

Haldwani: 40 घंटे बिजली बंद रहेगी..।ऊर्जा निगम के खिलाफ लोगों ने प्रदर्शन किया, जिससे व्यवस्था टूट गई

17
0

बुधवार को हल्द्वानी के गौजाजाली वार्ड-59 स्थित चौधरी कॉलोनी और न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में भारी गर्मी के बीच बिजली सप्लाई लड़खड़ाने से परेशान लोगों ने प्रदर्शन करके ऊर्जा निगम के अधिकारियों को घेर लिया। क्षेत्र में बिजली सप्लाई करीब चालिस घंटे बाद दुरुस्त हुई।

गौजाजाली स्थित हिमालया स्कूल के पास सोमवार देर रात ट्रांसफार्मर फुंक गया था। ऊर्जा निगम के कर्मचारियों ने मंगलवार दोपहर नया ट्रासंफार्मर लगाया। कुछ देर बाद फिर गड़बड़ी के कारण इलाके की बिजली आपूर्ति गुल हो गई। रात 11 बजे आई बिजली कुछ देर बाद फिर चली गई। ऐसे में लोगों ने भीषण गर्मी में बिन बिजली के रात गुजारी। इससे नाराज लोगों ने बुधवार को मौके पर पहुंचे ऊर्जा निगम के एसडीओ मनीष जोशी और जेई आजम मलिक का घेराव किया। साथ ही विभाग के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया। इसके बाद दोपहर में बिजली सप्लाई बहाली हो सकी। निवर्तमान पार्षद रईस अहमद गुड्डू ने कहा कि ट्रांसफार्मर बदलकर लगाया जो कुछ देर बाद फुंक गया। कहा कि स्थानीय लोगों के आवाज उठाने पर 250 केवी का ट्रांसफार्मर लगाया गया। जेई आजम मलिक ने बताया कि ओवरलोडिंग के चलते समस्या हुई। दूसरे ट्रांसफार्मर को बदलकर समस्या हल कर दी है। यहां बीएस राणा, दीपक बहुगुणा, लईक अंसारी, मोहम्मद शमी आदि रहे।

गर्मी में बिजली कटौती ने बढ़ाई दिक्कतें

हल्द्वानी शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली की कमी एक समस्या बनी हुई है। बुधवार को राजपुरा, गौलापार, समता आश्रम गली, रामपुर रोड और अन्य कई क्षेत्रों में एक से दो घंटे तक बिजली नहीं थी। ऊर्जा निगम के ईई डीडी पांगती ने बताया कि नियमित कटौती के दौरान बिजली आपूर्ति कुछ घंटे प्रभावित हुई है। लो वोल्टेज की समस्या जल्द हल होगी।

जलसंस्थान ने 21 टैंकर भेजकर कराई पेयजल आपूर्ति

प्रचंड गर्मी ने शहर के कई क्षेत्रों में पेयजल की कमी को जन्म दिया है। बुधवार को जल संस्थान ने 21 टैंकर को पेयजल की कमी वाले क्षेत्रों में भेजा। टैंकर कठघरिया, काठगोदाम, दमुवाढ़ूंगा, बच्चीनगर, लोहरियासाल, साई मंदिर, हिम्मतपुर, रामपुर रोड, गौला गेट, इंदिरानगर, भगवानपुर और कठघरिया में भेजे गए। जल संस्थान के अधिशासी अभियंता आरएस लोशाली ने कहा कि जरूरत के अनुसार टैंकर भेजे जा रहे हैं और उनकी आपूर्ति की जा रही है।