Home उत्तराखंड घर बैठे पैसे कमाने का सपना: फिर बनाया गया एक टेलीग्राफ ग्रुप...

घर बैठे पैसे कमाने का सपना: फिर बनाया गया एक टेलीग्राफ ग्रुप और लगाया सवा छह लाख का चूना; दर्ज करना

28
0

रुद्रपुर में एक युवा को ऑनलाइन कमाई का झांसा देकर साइबर ठग ने सवा छह लाख रुपये ठगे। पीड़ित की शिकायत पर ट्रांजिट कैंप थाना पुलिस ने साइबर ठग का मुकदमा दर्ज किया है।

वार्ड 39 जगतपुरा निवासी दीपक नैनवाल ने पुलिस को बताया कि 27 अप्रैल की सुबह उसके मोबाइल पर एक अज्ञात नंबर से कॉल आया था। कॉलर ने खुद को एक कंपनी का प्रतिनिधि बताते हुए ऑनलाइन काम करने की इच्छा व्यक्त की। उसकी हामी के बाद कॉलर ने उसे टेलीग्राम ग्रुप में जोड़ा और उसे 200 रुपये का ज्वाइनिंग कमीशन दिया। 28 अप्रैल को उसे टास्क देकर सात हजार रुपये जमा कराए गए और धनराशि लाभ के साथ दस हजार रुपये मिलने की घोषणा की गई। जब उसने पैसे निकालना चाहा, तो खाता सीज कर दिया गया क्योंकि वह गलत था।

इसके बाद खाता शुरू करने के लिए 27,450 रुपये का भुगतान किया गया और फिर से 1,88,000 रुपये जमा कराए गए। उसकी ओर से जमा की गई रकम को 3,36,000 रुपये के लाभांश के साथ डेशबोर्ड पर दिखाया गया था। उसने पैसे निकालने की कोशिश की तो खाता फिर से सीज कर दिया गया। बाद में खाता शुरू करने के लिए 3,76,000 रुपये की मांग की गई। उसने बताए गए खातों में आरटीजीएस और यूपीआई के माध्यम से धन जमा किया।

इसके बाद धन को लाभांश के साथ 8,61,000 रुपये बताया गया। धन अधिक होने का हवाला देकर चार बार में आहरण करने का आदेश दिया गया। इसके तहत पहले 5000 रुपये उसके खाते में भेजे गए। उसने 2,25,000 रुपये आहरित करने की कोशिश की और फिर खाता सीज कर दिया। उससे धन निकालने के लिए 8,95,000 रुपये देने का आदेश दिया गया था। उसने भुगतान करना बंद कर दिया क्योंकि उसे ठगी का शक हुआ। 28 अप्रैल से 30 अप्रैल तक, उसने 6,25,900 रुपये यूपीआई आईडी और बताए गए बैंक खातों में भेजे थे। पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।