Home उत्तराखंड धारचूला-आदि कैलाश सड़क: केंद्रीय राज्यमंत्री अजय टम्टा ने कहा कि खतरनाक स्थानों...

धारचूला-आदि कैलाश सड़क: केंद्रीय राज्यमंत्री अजय टम्टा ने कहा कि खतरनाक स्थानों पर टनल बनेगी, सर्वे चल रहा है।

14
0

धारचूला से आदि कैलाश तक टनल बनाने के लिए कुछ खतरनाक स्थानों पर सर्वे चल रहा है, केंद्रीय सड़क परिवहन राज्यमंत्री अजय टम्टा ने कहा। नैनीताल, अल्मोड़ा और अन्य कैलाशों से हस्ताक्षरित बोर्ड हापुड़ बैंड पर लगाए जाएंगे।

चंपावत बाईपास को अगले महीने तक मंजूरी दी जाएगी, मंत्री अजय टम्टा ने दिल्ली जाते समय पत्रकारों को बताया जब वे आदि कैलाश के दर्शन करने वाले थे। 328 करोड़ रुपये की लागत से मुडियानी से तिलौन तक 9.8 किमी की सड़क बनाई जाएगी। लोहाघाट बाईपास भी मंजूर होगा।

टनल भी देवराड़ी बैंड से पाटन पाटनी तक 6.4 किमी की दूरी पर बनाई जाएगी। इसके लिए ड्रोन सर्वेक्षण शुरू किया गया है। 14 किमी लंबा पिथौरागढ़ बाईपास बनेगा। इसमें एक 2.50 किमी टनल का प्रस्ताव है जो सातशिलिंग में ऐंचोली से गुजरेगा। इसके लिए भी सर्वे चल रहे हैं।

उनका कहना था कि पनार से अल्मोड़ा की 77 किमी लंबी टू-लेन सड़क की निर्माण प्रक्रिया अभी भी चल रही है। मंत्री ने बताया कि अल्मोड़ा से ताकुला-बागेश्वर-उडियारी बैंड तक एक दो-लेन सड़क का अनुमोदन किया गया है। घाट से उडियारी बैंड तक एक टू-लेन सड़क डीपीआर भी बनाया जाएगा। पुल निर्माण के लिए चंपावत में स्वाला के पास डेंजर क्षेत्र में सर्वे किया जा रहा है।

धारचूला से कैलाश तक सड़क को सुधारने और यात्रियों को असुविधा नहीं होने देने के लिए बीआरओ अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। मंत्री ने कहा कि बरसात के सीजन में सड़कें बंद न हों इसके लिए अधिकारियों को व्यवस्थाएं दुरुस्त रखने का आदेश दिया गया है।