Home उत्तराखंड शहर की वह वीरांगना जिसने पति के शहीद होने के बाद बेटे...

शहर की वह वीरांगना जिसने पति के शहीद होने के बाद बेटे को बनाया फ़ौजी

27
0

ऋषिकेश,नि.महापौर अनिता ममगाईं ने शनिवार को गुमानीवाला में फौजी भूपेंद्र बिष्ट के घर पहुंचकर उनको और उनके परिजनों को बधाई दी। फौजी भूपेंद्र बिष्ट शहीद राजेंद्र सिंह बिष्ट के पुत्र हैं,वह ट्रेनिंग पूरी कर आज घर लौटे हैं। 2005 आज के ही दिन उनके पिता राजेंद्र बिष्ट शहीद हुए थे। जिसके बाद उनकी माता लक्ष्मी बिष्ट ने अपने पुत्र भूपेंद्र बिष्ट को देश की सेवा मे लगाने के लिए ठान ली।

शनिवार को उनके घर पहुंचकर नि.महापौर अनिता ममगाईं ने कहा कि आज के ही दिन राजेंद्र बिष्ट
शहीद हुए थे। उस समय उनका पुत्र भूपेंद्र आठ महीने का था,देश भक्ति को समर्पित भूपेंद्र की मां ने अपने बेटे को देश सेवा मे भर्ती करने का संकल्प ले लिया था। विषम परिस्थिति मे उन्होंने अपने परिवार का लालन पालन किया। उसी संघर्ष का नतीजा है कि आज शहीद राजेंद्र बिष्ट का बेटा देश सेवा के लिए फ़ौज की ट्रेनिंग लेकर घर पहुंचा है। उन्होंने निगम क्षेत्र की इस गौरवान्वित करने वाली ख़बर पर जवान भूपेंद्र को शुभकामनायें दी हैं।

इस अवसर पर पार्षद विपिन पंत,हरीश रतूड़ी, अनूप बडोनी, राहुल त्रिपाठी, जनार्दन नवानी, संगीता गॉड, उर्मिला चमोली, रत्नमणि अंथवाल, मानसी गौड स्मृति चमोली आदि लोग मौजूद रहे।