Home उत्तराखंड दक्षिण अफ्रीका की एजेंसियां उत्तराखंड में “गुप्ता ब्रदर्स” की गिरफ्तारी से हरकत...

दक्षिण अफ्रीका की एजेंसियां उत्तराखंड में “गुप्ता ब्रदर्स” की गिरफ्तारी से हरकत में हैं, अरबों के गबन का आरोप

18
0

उत्तराखंड में ‘गुप्ता ब्रदर्स’ की गिरफ्तारी से हरकत में दक्षिण अफ्रीका की एजेंसियां, अरबों के गबन का है आरोप

उत्तराखंड का एक बड़ा बिल्डर ने अपने बहुमंजिला अपार्टमेंट की छत से कूदने से पहले अपने सुसाइड नोट में अनिल गुप्ता और अजय गुप्ता का नाम लिया था। शुक्रवार को राज्य पुलिस ने अनिल गुप्ता और अजय गुप्ता को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया।

शनिवार को दक्षिण अफ्रीका ने कहा कि गुप्ता बंधुओं की गिरफ्तारी की रिपोर्ट के बाद वह भारत सरकार से बातचीत करेगा। ध्यान दें कि गुप्ता बंधुओं में से एक अफ्रीकी सरकारी उद्यमों से अरबों की लूट के मामले में आरोपी है। भारतीय मूल के अतुल गुप्ता, अजय गुप्ता और राजेश गुप्ता पर आरोप लगाया गया है कि वे पूर्व राष्ट्रपति जैकब जुमा के साथ करीबी संबंधों के कारण दक्षिण अफ्रीका में अरबों रैंड की हेराफेरी करते थे।तीनों गुप्ता बंधु 2018 में जैकब जूमा के राष्ट्रपति पद से हटने के बाद दुबई फरार हो गए। राजेश और अतुल को 2023 में संयुक्त अरब अमीरात ने प्रत्यर्पण नहीं दिया, जिसके बाद दक्षिण अफ्रीका ने उन्हें भगोड़ा घोषित कर दिया. दोनों भाइयों ने दक्षिण अफ्रीका में आईटी, मीडिया और खनन क्षेत्र में एक विशाल साम्राज्य खड़ा किया था. दक्षिण अफ्रीका में गुप्ता बंधुओं की संपत्तियों को जब्त कर लिया गया है. अपनी संपत्तियों को ​छुड़ाने के लिए उन्होंने केस दायर किया है.

बिल्डर को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप उत्तराखंड में एक प्रमुख बिल्डर ने अपने बहुमंजिला अपार्टमेंट की छत से कूदने से पहले अपने सुसाइड नोट में अनिल गुप्ता और अजय गुप्ता का नाम लिया था। शुक्रवार को राज्य पुलिस ने अनिल गुप्ता और अजय गुप्ता को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। बिल्डर सतिंदर सिंह उर्फ बाबा साहनी को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में दोनों उद्यमियों को शनिवार को देहरादून की एक अदालत ने चौबीस दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया। यह भी नहीं पता कि क्या यह अजय गुप्ता है जो अपने भाइयों अतुल और राजेश के साथ दक्षिण अफ्रीका भाग गया था।