Home उत्तराखंड Nainital: कोश्यारी ने उत्तराखंड की राजनीति में अचानक चर्चा में आया, जबकि...

Nainital: कोश्यारी ने उत्तराखंड की राजनीति में अचानक चर्चा में आया, जबकि कुमाऊं में उनकी प्रशंसा हो रही है और गढ़वाल में उनकी आलोचना हो रही है।

20
0

पूर्व मुख्यमंत्री व पूर्व राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी का हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने हाईकोर्ट शिफ्टिंग प्रकरण पर पत्र भेजने पर उनका आभार व्यक्त किया है। बार एसोसिएशन के अध्यक्ष डीसीएस रावत ने बार सभागार में हुई एक बैठक में कहा कि कोश्यारी की ओर से मुख्यमंत्री को भेजा गया पत्र जनभावनाओं के विपरीत था। इसमें जनमत संग्रह जैसी प्रथा से बचने और उत्तराखंड में आम जनता के बीच समझौता बनाने के लिए सुझाव दिए गए हैं।

नैनीताल की विधायक सरिता आर्या, सांसद अजय भट्ट, सभी बार एसोसिएशन, सामाजिक कार्यकर्ताओं और अन्य गणमान्य व्यक्तियों को भी इस मामले में हाईकोर्ट बार का साथ देने के लिए धन्यवाद दिया गया है। प्रसन्ना कर्नाटक, कांति राम, मंयक पांडे, शीतल सेलवाल, कौशल पांडे, दिग्विजय सिंह बिष्ट, प्रकाश पेटशाली आदि बैठक में उपस्थित थे। महासचिव सौरव अधिकारी ने व्यवस्था की।

वहीं, बार एसोसिएशन देहरादून और गढ़वाल मंडल के सभी अधिवक्ता सुप्रीम कोर्ट में दाखिल स्टे अपील में हाईकोर्ट को नैनीताल से दूसरी जगह स्थानांतरित करने के मामले में अपना पक्ष रखेंगे। इसके लिए एक बैठक बार भवन में बुलाई गई थी। जिसमें अगले निर्णय लेने के लिए एक विधिक कमेटी बनाई गई है। इस कमेटी में चार लोग हैं। इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी के पत्र की भी निंदा की गई। अधिवक्ताओं ने कहा कि कोश्यारी की यह उम्र राम भजन करने की नहीं, राजनीति करने की है।