Home उत्तराखंड सीएम धामी बोले भाजपा की जीत को पचा नहीं पा रहे विरोधी,...

सीएम धामी बोले भाजपा की जीत को पचा नहीं पा रहे विरोधी, केजरीवाल को घेरा

33
0

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने एक साक्षात्कार में मणि शंकर अय्यर, अरविंद केजरीवाल ,मजार शरिया कानून और अगर भाजपा 400 पार करती है तो संविधान बदले जाने की बात पर खुलकर जबाब दिया है. साथ ही मुख्यमंत्री ने समान नागरिक संहिता से जुड़े सारे सवालों का विस्तार में जवाब दिया है।

पुष्कर सिंह धामी ने कहा की इस बार का चुनाव जिन लोगों ने राम को नकारा है. जिन लोगों ने सनातन का विरोध किया वो लोग भाजपा की जीत को पचा नहीं पा रहे है. जो लोग देश द्रोही है जो लोग देशभक्त हैं. यह चुनाव उनके बीच का किसी को साइड लाइन नहीं किया गया है. आडवाणी जी देश के बड़े नेता हैं हमारे अध्यक्ष रहे हैं, उप प्रधानमंत्री रहे हैं. उनके नेतृत्व में पार्टी लंबे समय तक चली है, मुरली मनोहर जोशी भी पार्टी के सर्वोच्च नेता रहे हैं पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे हैं उनका सम्मान सर्वोपरि है.

अरविंद केजरीवाल अंतरिम जमानत पर बाहर आए हुए हैं. शराब घोटाले से उनको किंचित नहीं मिली हुई है. 2 तारीख के बाद फिर वह जेल जाएंगे मोदी जी के लोकप्रियता सेवा घबरा गए हैं, इसलिए वह उल्टी सीधी बातें कर रहे हैं. मोदी जी के नेतृत्व में चुनाव लड़ा जा रहा है वह देश के प्रधानमंत्री हैं और रहेंगे. उनको हर जगह समर्थन मिल रहा है. जनता का सीधा उनका गठबंधन जनता से है. 2019 में भी जो चुनाव आएगा उन्हीं के नेतृत्व में चुनाव होगा.

भाजपा के 400 पार होने पर संविधान बदल दिया जाएगा इसे लेकर भ्रम फैलाया जा रहा है. जबकि ऐसा बिल्कुल नहीं है. कर्नाटक में कांग्रेस की सरकार है उन्होंने अपने चाहते वोट बैंक को घुसा दिया है इसी तरह आंध्र में भी यही किया गया. एक वर्ग के विशेष को ओबीसी में शामिल किया गया जो संविधान के मूल धारा के खिलाफ है. कोई आरक्षण समाप्त नहीं होने वाला है. कोई संविधान नहीं बदलने वाला है. देश के उत्थान का काम मोदी जी के नेतृत्व में होने वाला है. यह तभी ट्रेलर है अभी पिक्चर बाकी है.

निश्चित रूप से 400 पर की सरकार बनी चुनाव बाद बहुत बड़े निर्णय होने हैं. उसमें POK भी है 400 पर का नारा धरातल पर उतर रहा है. तीन चरणों के चुनाव में बीजेपी 200 के पार हो चुकी है. जो लोग उसके अंदर षड्यंत्र कर रहे हैं जो लोग देश के अंदर तुष्टिकरण कर रहे हैं उनको हार का सामना करना पड़ेगा.जब कांग्रेस का घोषणा पत्र आता है उनके नेता सनातन को गाली देते हैं. उनके नेता राम की अस्तित्व को नकारते हैं. उनके नेता मुस्लिम वर्क को आरक्षण देते हैं. उनके घोषणा पत्र में है कि पर्सनल लॉ लागू होना चाहिए. तो फिर शरिया कानून की बात होती है. समान नागरिक आचार संहिता की बात होती है. देवभूमि में अवैध मजार पर कार्रवाई लगातार जारी रहेगी.